jivan anand sadhna by jivandarshan

क्या है जीवन आनंद साधना (Jivan Anand Sadhna Kya hai )

आनंद ध्यान अमृत

साधना पथ पर आप सब का स्वागत……ध्यान कोई नया विषय नहीं जिस पर आज मै चर्चा कर रहा हुं। आज सिर्फ अपनी बात कहुंगा । जीवन आनंद साधना ….. जीवन आनंद साधना यानि आनंद को पाने की साधना यानि आनंद को पाने की साधना…..यह ध्यान करने की नहीं समझने की साधना है…बस इतना समझ ले […]

Read more >
parents and child relationship in hindi by jivandarshan

साधना.. अभिभावकों और बच्चों की (parents and child relationship in hindi)

आनंद ध्यान अमृत

साथियों आज परिवार की साधना पर चर्चा करनी है…..अपनी और अपने बच्चो की बात करनी है…..आपसे इतना अनुरोध है की आप इस पोस्ट पर पूरा …ध्यान..दे …यह पोस्ट कई परिवारों के जीवन में रौशनी बिखेर देगी…..साथियों पिछले दिनों कई सवाल बच्चो से जुड़े आये और इनके समाधान मांगे… सवालों की बानगी कुछ इस तरह की […]

Read more >
Sadhna in hindi by jivandarshan

साधना … यानि स्वयं को साधना (Sadhna in Hindi)

आनंद ध्यान अमृत

आज आपकी आपसे ही मुलाक़ात करानी है ॐ गुरवे नमः……आज आपकी आपसे ही मुलाक़ात करानी है…..कई सारे साथियों के सवालों से अपनी बात करुगा….कई सारे साथी सुझाव कुछ इस तरह से मांगते है…..में बहुत परेशां हूँ…हमेशा डर बना रहता है…..जो काम कर रहा हूँ उसमे मन ही नहीं लगता…. खूब मेहनत करता हूँ पर कमाई […]

Read more >
What is love by jivandarshan

What is love?

English Blog

Love is blind? Love is complicated? Love is in air? Love is war? Love is chemical reactions? In order to more loving you should, to understand what is love its not just feeling – it’s a commitment, it’s an action, and it’s a decision. Love is not about fairy tale story having happy endings and […]

Read more >
Who was Acharya Chanakya by jivandarshan

आचार्य चाणक्य कौन थे ? (Chanakya niti in hindi)

चाणक्य नीति

उन दिनों भारत के एक राज्य मगध में महाराज धर्मनंद का राज्य था । मगध एक शक्तिशाली राज्य था । महाराज धर्मनंद विलासी प्रवृति के थे । वे सुरा-सुन्दरी में डूबे रहते थे । राज्य का भार शटकार और कात्यायन जैसे सुयोग्य मंत्रियों के सुपुर्द था । इन्हीं में से गृहमंत्री राक्षस । शकटार उन […]

Read more >

क्या आपको भी किसी की नज़र लगती है तो जरूर दे इन सवालो के जवाब -Nazar lagna in hindi

जीवन दर्शन के सवाल

दोस्तों हमारी ज़िन्दगी में कई बार ऐसे मौके आते है जब हम किसी ना किसी पर दोष देते रहते है । साथ ही हमे ऐसा लगता है कि किसी ने हमको नज़र लगा दी जिससे हमारा ये काम बिगड़ गया। अपनी नाकामी छुपाने के लिए हम अंधविश्वास का सहारा लेते है । आज हम जिस […]

Read more >
Should there be any hope in relationships by jivandarshan

क्या संबंधों में कोई आशा रखनी चाहिए ? (Relationships in hindi)

मेरी सोच

आज हम जब भी किसी के लिए कुछ भी करते है तो हम दुसरे से भी यही अपेक्षा रखते है कि वो भी हमारे लिए वहीं करे…पर आप बताएं क्या यह सही है..आपके संस्कार,आपकी विशेषताएं,आपका अनुभव,आपका नज़रियां दुनिया से अलग है आप जैसा करे वैसा दुसरे भी करे ये संभव नहीं है… इसलिए जब आप […]

Read more >
Do people envy you by jivandarshan

क्या आपसे भी लोग ईष्या करते है ?

मेरी सोच

दोस्तों आज बात करेंगे समाज से जुड़े हुए एक बहुत ही महत्वपुर्ण मुद्दे की जो है ईष्या…. वैसे तो यह हर किसी में पाई जाती है पर किसी में कम तो किसी में बहुत ज्यादा.. लोगो के इस भाव से उनकें अंदर दुसरी कई और प्रकार की बुराईयां जन्म लेने लगती है जिसका शायद उन्हें […]

Read more >