आध्यात्मिक विचार

संतोषी माता की संपूर्ण व्रत कथा (Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi)

Posted on
Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi by jivandarshan

संतोषी माता व्रत कथा:-Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi एक बुढ़िया थी, उसके सात बेटे थे। 6 कमाने वाले थे जबकि एक निक्कमा था। बुढ़िया छहों बेटों की रसोई बनाती, भोजन कराती और उनसे जो कुछ जूठन बचती वह सातवें को दे देती। एक दिन वह पत्नी से बोला: देखो मेरी माँ को मुझ पर […]

Read more >
आध्यात्मिक विचार

श्री सत्यनारायण जी आरती (Shri Satyanarayan Ji ki Aarti hindi)

Posted on
Shri Satyanarayan Ji Ki Aarti hindi by jivandarshan

जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा ।सत्यनारायण स्वामी,जन पातक हरणा ॥ ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा । रतन जड़ित सिंहासन,अदभुत छवि राजे ।नारद करत नीराजन,घंटा वन बाजे ॥ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा । प्रकट भए कलिकारण,द्विज को दरस दियो ।बूढ़ो ब्राह्मण बनकर,कंचन महल कियो ॥ ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी […]

Read more >
आध्यात्मिक विचार

श्री शनि चालीसा ( Shri shani dev chalisa hindi)-आरती/चालीसा

Posted on
Shri shani dev chalisa hindi by jivandarshan

॥ दोहा ॥जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल करण कृपाल ।दीनन के दुख दूर करि, कीजै नाथ निहाल ॥ जय जय श्री शनिदेव प्रभु, सुनहु विनय महाराज ।करहु कृपा हे रवि तनय, राखहु जन की लाज ॥ ॥ चौपाई ॥जयति जयति शनिदेव दयाला ।करत सदा भक्तन प्रतिपाला ॥ चारि भुजा, तनु श्याम विराजै ।माथे रतन मुकुट […]

Read more >
आध्यात्मिक विचार

श्री खाटू श्याम जी की आरती ( Shri Khatu shyam ji ki aarti hindi)

Posted on
Shri Khatu shyam ji ki aarti hindi by jivandarshan-min

ॐ जय श्री श्याम हरे,बाबा जय श्री श्याम हरे।खाटू धाम विराजत,अनुपम रूप धरे॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ रतन जड़ित सिंहासन,सिर पर चंवर ढुरे ।तन केसरिया बागो,कुण्डल श्रवण पड़े ॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ गल पुष्पों की माला,सिर पार मुकुट धरे ।खेवत धूप अग्नि पर,दीपक ज्योति जले ॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ मोदक खीर चूरमा,सुवरण थाल […]

Read more >
आध्यात्मिक विचार

संतोषी माता की आरती (Santoshi mata ki aarti in hindi)

Posted on
santoshi mata ki aarti hindi by jivandarshan

जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ।अपने सेवक जन की,सुख सम्पति दाता ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ॥ सुन्दर चीर सुनहरी,मां धारण कीन्हो ।हीरा पन्ना दमके,तन श्रृंगार लीन्हो ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ॥ गेरू लाल छटा छबि,बदन कमल सोहे ।मंद हंसत करुणामयी,त्रिभुवन जन मोहे ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी […]

Read more >
आध्यात्मिक विचार

जानिए “ॐ जय जगदीश हरे आरती” के लिरिक्स (Om Jai Jagdish Hare Lyrics in hindi)

Posted on
Om Jai Jagdish Hare Lyrics in hindi by jivandarshan

जानिए ॐ जय जगदीश हरे आरती को किसने व कब लिखा था (Aarti Lyrics in hindi) सबसे ज्यादा लोकप्रिय आरती ओम जय जगदीश हरे 150 सालों से यह आरती पूजा-अनुष्ठान का एक अभिन्न अंग बन चुकी है। इसे बनाया था पंडित श्रद्धाराम फुल्लौरी ने ।  यह आरती मूलतः भगवान विष्णु को समर्पित है फिर भी इस […]

Read more >
ज्योतिष ज्ञान

सोया हुआ भाव और सोया हुआ ग्रह- लाल किताब

Posted on
Lal kitab ke tautke-soya hua grah and soya hua bhav

Lal kitab ke tautke-कुण्डली में कोइ भाव सोया हुआ हो तो उस भाव से सम्बन्धित फल व्यक्ति को प्राप्त नहीं होते है। कई बार किस्मत का ग्रह सोया हुआ हो तो व्यक्ति कितना ही कठोर परिश्रम करे उसे सफलता प्राप्त नहीं होती। परिश्रम के पश्चात् भी फल प्राप्त न होना कई बार भाव या ग्रह […]

Read more >
आनंद ध्यान अमृत

भीतर की यात्रा : कैसे करे (Bhitri yatra ki sadhna kaise kare)

Posted on
Bhitri yatra ki sadhna kaise kare by jivandarshan

Bhitri yatra ki sadhna kaise kare-ॐ गुरवे नमः…..आपको पिछली पोस्ट में भीतर की यात्रा से जुड़े पहलुओ तक ले गए और बात समाप्त कर दी….आज वही से अपनी बात शुरू करेगे….. आपसे स्थूल शरीर, सूक्ष्म शरीर और कारण शरीर पर चर्चा की….स्थूल शरीर यानि चेतन, सूक्ष्म शरीर यानि अवचेतन और कारण शरीर यानि अचेतन शरीर […]

Read more >
आनंद ध्यान अमृत

नवजीवन के आनंद की साधना ( Navjivan ke anand ki sadhna hindi)

Posted on
Navjivan ke anand ki sadhna hindi by jivandarshan

Navjivan ke anand ki sadhna hindi-ॐ गुरवे नमः……यू तो हर रोज नया जन्म है…..नींद शरीर का समाधि स्वरूप ही है….. छह से आठ घंटे कैसे गुजरे कुछ पता नहीं….सुबह आँख खुलने पर नया दिन शुरू होता है……उस वक्त याद आया तो भगवान को एक पल अच्छे दिन के लिए याद कर लेते है….. पर ऐसा […]

Read more >
जीवन दर्शन के सवाल

कोरोना पर कुछ अजब-गजब निबंध (essay on corona virus in hindi)

Posted on
essay on coronavirus in hindi by jivandarshan

essay on corona virus in hindi-लोगो को अपने पैसो का अपने रूतबे का अपनी पहचान का बहुत अहंकार था पिछले काफी समय से चल रही कोरोना महामारी ने लोगो को रस्ते पर खड़ा कर दिया। लोगो के ये सोचने के लिए मजबुर कर दिया कि वो क्या है। बड़े से बड़े आदमी का अहंकार शुन्य […]

Read more >
पर्सनालिटी डेवलपमेंट

मान,सम्मान व प्रतिष्ठा कैसे मिलती है।(Maan Samman prapti ke upay in hindi)

Posted on
Maan Samman prapti ke upay in hindi

Maan Samman prapti ke upay in hindi-दोस्तों ये तो आपने भी देखा होगा और महसुस भी किया होगा कि मान सम्मान प्रतिष्ठा सभी को चाहिए। हर कोई चाहता है कि उसके पद का उसकी उम्र का या फिर उसके पद का सभी सम्मान करे।  पर क्या असल में ऐसा हो पाता है बिल्कुल नहीं। जब […]

Read more >
चाणक्य नीति

चाणक्य ने मूर्ख शिष्य,दुष्ट महिला के लिए क्या कहां(chanakya said about Women)

Posted on
Know what chanakya said about women

Know what chanakya said about women-आचार्य चाणक्य कहते हैं कि मूर्ख शिष्य को भली बात के लिए प्रेरित नहीं करना चाहिए। इसी प्रकार दुष्ट आचरण करने वाली स्त्री का भरण-पोषण करना अनुचित है और दुःखी व्यक्तियों के पास उठने-बैठने से,उनसे व्यवहार करने से पण्डितों अर्थात् बुद्धिमान पुरूषों को भी कष्ट उठाना पड़ता है। इस बात […]

Read more >