Devi kavach path in hindi by jivandarshan

देवी कवच पाठ – ( Devi kavach path in hindi)

आध्यात्मिक विचार

॥अथ श्री देव्याः कवचम्॥ ॐ अस्य श्रीचण्डीकवचस्य ब्रह्मा ऋषिः, अनुष्टुप् छन्दः, चामुण्डा देवता, अङ्गन्यासोक्तमातरो बीजम्, दिग्बन्धदेवतास्तत्त्वम्, श्रीजगदम्बाप्रीत्यर्थे सप्तशतीपाठाङ्गत्वेन जपे विनियोगः। ॐ नमश्चण्डिकायै। ॥मार्कण्डेय उवाच॥ ॐ यद्गुह्यं परमं लोके सर्वरक्षाकरं नृणाम्। यन्न कस्य चिदाख्यातं तन्मे ब्रूहि पितामह॥1॥ ऊँ चण्डिका देवी के नमस्कार है। मार्कण्डेय जी ने कहा हे पितामह! जो इस संसार में परम गोपनीय तथा […]

Read more >
Maa durga ke 108 naam hindi by jivandarshan

कलियुगमें कामनाओंकी सिद्धि-हेतु उपाय- (Maa durga ke 108 naam hindi)

आध्यात्मिक विचार

कलियुगमें कामनाओंकी सिद्धि-हेतु उपाय- मां दुर्गा के 108 नाम (Maa durga ke 108 naam hindi) 1. ऊँ सती, 2. साध्वी, 3. भवप्रीता, 4. भवानी, 5 भवमोचनी, 6 आर्या, 7 दुर्गा, 8 जया, 9 आद्या, 10 त्रिनेत्रा, 11 शूलधारिणी, 12 पिनाकधारिणी, 13 चित्रा, 14 चंद्रघंटा, 15 महातपा, 16 मन, 17 बुद्धि, 18 अहंकारा, 19 चित्तरूपा, 20 […]

Read more >
Shri Ram Stuti hindi by jivandarshan-min

श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन: श्री राम स्तुति (Shri Ram Stuti hindi)

आध्यात्मिक विचार

॥दोहा॥श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं ।नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद कंजारुणं ॥१॥ कन्दर्प अगणित अमित छवि  नव नील नीरद सुन्दरं ।पटपीत मानहुँ तडित रुचि शुचि नोमि जनक सुतावरं ॥२॥ भजु दीनबन्धु दिनेश दानव दैत्य वंश निकन्दनं ।रघुनन्द आनन्द कन्द कोशल चन्द दशरथ नन्दनं ॥३॥ शिर मुकुट कुंडल तिलक चारु उदारु अङ्ग […]

Read more >
Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi by jivandarshan

संतोषी माता की संपूर्ण व्रत कथा (Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi)

आध्यात्मिक विचार

संतोषी माता व्रत कथा:-Santoshi Mata KI Vrat Katha hindi एक बुढ़िया थी, उसके सात बेटे थे। 6 कमाने वाले थे जबकि एक निक्कमा था। बुढ़िया छहों बेटों की रसोई बनाती, भोजन कराती और उनसे जो कुछ जूठन बचती वह सातवें को दे देती। एक दिन वह पत्नी से बोला: देखो मेरी माँ को मुझ पर […]

Read more >
Shri Satyanarayan Ji Ki Aarti hindi by jivandarshan

श्री सत्यनारायण जी आरती (Shri Satyanarayan Ji ki Aarti hindi)

आध्यात्मिक विचार

जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा ।सत्यनारायण स्वामी,जन पातक हरणा ॥ ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा । रतन जड़ित सिंहासन,अदभुत छवि राजे ।नारद करत नीराजन,घंटा वन बाजे ॥ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी रमणा । प्रकट भए कलिकारण,द्विज को दरस दियो ।बूढ़ो ब्राह्मण बनकर,कंचन महल कियो ॥ ॐ जय लक्ष्मी रमणा,स्वामी जय लक्ष्मी […]

Read more >
Shri shani dev chalisa hindi by jivandarshan

श्री शनि चालीसा ( Shri shani dev chalisa hindi)-आरती/चालीसा

आध्यात्मिक विचार

॥ दोहा ॥जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल करण कृपाल ।दीनन के दुख दूर करि, कीजै नाथ निहाल ॥ जय जय श्री शनिदेव प्रभु, सुनहु विनय महाराज ।करहु कृपा हे रवि तनय, राखहु जन की लाज ॥ ॥ चौपाई ॥जयति जयति शनिदेव दयाला ।करत सदा भक्तन प्रतिपाला ॥ चारि भुजा, तनु श्याम विराजै ।माथे रतन मुकुट […]

Read more >
Shri Khatu shyam ji ki aarti hindi by jivandarshan-min

श्री खाटू श्याम जी की आरती ( Shri Khatu shyam ji ki aarti hindi)

आध्यात्मिक विचार

ॐ जय श्री श्याम हरे,बाबा जय श्री श्याम हरे।खाटू धाम विराजत,अनुपम रूप धरे॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ रतन जड़ित सिंहासन,सिर पर चंवर ढुरे ।तन केसरिया बागो,कुण्डल श्रवण पड़े ॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ गल पुष्पों की माला,सिर पार मुकुट धरे ।खेवत धूप अग्नि पर,दीपक ज्योति जले ॥ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ मोदक खीर चूरमा,सुवरण थाल […]

Read more >
santoshi mata ki aarti hindi by jivandarshan

संतोषी माता की आरती (Santoshi mata ki aarti in hindi)

आध्यात्मिक विचार

जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ।अपने सेवक जन की,सुख सम्पति दाता ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ॥ सुन्दर चीर सुनहरी,मां धारण कीन्हो ।हीरा पन्ना दमके,तन श्रृंगार लीन्हो ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी माता ॥ गेरू लाल छटा छबि,बदन कमल सोहे ।मंद हंसत करुणामयी,त्रिभुवन जन मोहे ॥ जय सन्तोषी माता,मैया जय सन्तोषी […]

Read more >
Om Jai Jagdish Hare Lyrics in hindi by jivandarshan

जानिए “ॐ जय जगदीश हरे आरती” के लिरिक्स (Om Jai Jagdish Hare Lyrics in hindi)

आध्यात्मिक विचार

जानिए ॐ जय जगदीश हरे आरती को किसने व कब लिखा था (Aarti Lyrics in hindi) सबसे ज्यादा लोकप्रिय आरती ओम जय जगदीश हरे 150 सालों से यह आरती पूजा-अनुष्ठान का एक अभिन्न अंग बन चुकी है। इसे बनाया था पंडित श्रद्धाराम फुल्लौरी ने ।  यह आरती मूलतः भगवान विष्णु को समर्पित है फिर भी इस […]

Read more >
Jay Adhya Shakti Aarti Lyrics in hindi

मां आद्या शक्ति आरती,अंबे मां आरती।Jay Adhya Shakti Aarti Lyrics in hindi

आध्यात्मिक विचार

Jay Adhya Shakti Aarti Lyrics in hindi-जय आद्या शक्ति, माँ जय आद्या शक्ति,अखंड ब्रह्माण्ड दीपाव्यां (2) पडवे प्रगटतया माँ..ॐ जय ॐ माँ जगदम्बे… द्वितीय मेहस्वरूप, शिवशक्ति जाणुं, माँ शिवशक्ति जाणुं,ब्रह्मा गणपती गावो (2) हरे गावो हर माँ…ॐ जय ॐ माँ जगदम्बे… तृतीया त्रण सरूप त्रिभुवनमां बेठा, माँ त्रिभुवनमां बेठादय थकी तरवेणी (2), तमे तरवेणी माँ..ॐ […]

Read more >

नवरात्री में व्रत कैसे करें ?(Navratri mai vrat kaise kare hindi)

आध्यात्मिक विचार

Navratri mai vrat kaise kare hindi-शास्त्र कहता है कि हमें निराहार रहकर शक्ति की आराधना करनी चाहिए ।तथा फलाहार लेना चाहिए । यदि उपवास किया जाता है तो हमें शक्ति की निकटता प्राप्त होती है । भूख लगने पर फल खाने चाहिए। यदि आपके लिए भूखा रहना संभव नहीं हो तो एक टाइम भोजन करें […]

Read more >
Adhik mass importance in hindi by jivandarshan

क्या है अधिकमास,ये कब आता है,महत्व,(Adhik mass importance in hindi)

आध्यात्मिक विचार

अधिकमास क्यों ?-Adhik mass importance in hindi Adhik mass importance in hindi-सौर वर्ष का मान 365 दिन,15 घटी, 22 पल, और 57 विपल है । जबकि चांदवर्ष का मान 354 दिन, 22 घटी, 1 पल और 23 विपल होता है। दोनो वर्षो में लगभग ग्यारह दिन का अंतर होता है। सौर वर्ष तथा चांद वर्ष […]

Read more >