भगवान के चौबीस अवतार

आध्यात्मिक विचार

“श्रीमद् भागवत” || ऊं गुरूवे नम: || श्रीमद् भागवत परमहंसो का ग्रन्थ है । परमहंस मानते है कि संपति एवं स्त्री भक्ति में बाधक नहीं है परन्तु भक्ति में मददगार है । इंद्रियॉ भोग का साधन नहीं है परन्तु भक्ति करने का साधन है। परमात्मा में मन सदा लगाए रखना भक्ति है। आप हमेशा किसी […]

Read more >
Khud ki tarif kare in hindi

खुद की तारीफ करे ! – Khud ki tarif kare in hindi- appreciate yourself

आध्यात्मिक विचार

How to appreciate yourself-Khud ki tarif kare in hindi Khud ki tarif kare in hindi – आज का पोइंट सबसे अलग और अजीब है जैसा कि लिखा हुआ है “खुद की तारीफ करे”…. आप खुद सोचो कि आपने कभी ये सोचा है कि खुद की तारीफ करने से आपको कितने फायदे हो सकते है….  ये […]

Read more >
right decision in hindi by jivandarshan

कैसे ले सही फैसला ? (how to take a right decision in hindi)

पर्सनालिटी डेवलपमेंट

How to take a right decision how to take a right decision in hindi – दोस्तों फिर से आज में एक नए पोइंट के साथ आपके सामने आया हूं आज का मेरा पोइंट है कि अपने जीवन में पग-पग पर कैसे फैसला लिया जाए… दोस्तों हर बार की तरह ये पोइंट भी थोड़ा अजीब और […]

Read more >
what is yoga in hindi by jivandarshan

योग क्या है ? What is yoga in hindi ,योग का अर्थ ,प्रकार ।

आध्यात्मिक विचार

what is yoga in hindi – भारतीय आध्यात्म के अनुसार योग का अर्थ है “ जुड़ना “। योग का आध्यात्मिक अर्थ है आत्मा का परमात्मा से जुड़ाव अर्थात एकाकार हो जाना। योग को पॉच भागो में बांटा गया है।what is yoga in hindi 1) हठयोग 2) ध्यान योग 3) कर्मयोग 4) भक्तियोग 5) ज्ञानयोग मनुष्य […]

Read more >
Saccha Dharmik kon in hindi

सच्चा धार्मिक कौन है ? (Saccha Dharmik kon in hindi)

आध्यात्मिक विचार

Saccha Dharmik kon in hindi-कभी-कभी मेरी बात से आपको ऐसा लगता होगा की एक लेख में मैं जिस बात को कहता हूं । दूसरे लेख में उससें विपरीत बात को कह रहा हूं । सच्चा धर्म क्या है । अत: आपसे विनम्र निवेदन है कि उस समय मेरे शब्दों पर न जाकर जो मैं समझाने […]

Read more >
comfort zone in hindi by jivandarshan

सफलता चाहिए तो अपने कमफर्ट ज़ोन से बाहर आओं(comfort zone in hindi)

पर्सनालिटी डेवलपमेंट

कमफर्ट ज़ोन से बाहर आओं (comfort zone in hindi) comfort zone in hindi – दोस्तों मेरा आज का पोइंट कुछ अलग है….क्योंकि इसमें में आपको व्यक्ति की जर्नी और उसके आगे बढ़ने का सुत्र बताऊंगा…. जो लोग अपने जीवन में कुछ नहीं कर पाते या फिर कुछ कर भी लेते है…. तो उसके बाद वो […]

Read more >
prabhu bhakti m drudh kaise rahe

भक्ति में दृढ़ कैसे रहे ?

आध्यात्मिक विचार

हमारा तन एवं मन यदि पवित्र हो तो प्रभु के दर्शन निश्चित होते है। अर्थात मन निर्विकारी हो तो प्रभु का दर्शन सरल है। ध्यान एवं भक्ति दोनो उपाय करने से परमात्मा का साक्षात्कार संभव है। ध्यान एवं भक्ति में जैसे-जैसे व्यक्ति आगे बढ़ता है उसमें समदृष्टि का विकास होता है । जैसे ही समदृष्टि […]

Read more >
stay busy in hindi by jivandarshan

ज्यादा से ज्यादा बिज़ी रहो,एक अलग ही एनर्जी फील करों – (stay busy in hindi)

पर्सनालिटी डेवलपमेंट

Always stay busy-stay busy in hindi stay busy in hindi – दोस्तों आज मै बहुत दिनों बाद फिर से आपके लिए मेरा एक नया विचार लाया हूं…आज का मेरा पोइंट खासकर मेरे यूवाओं के लिए है…दोस्तों आप कभी-कभी ऐसा फील करते होंगे जैसे आप इस दुनिया में बिलकुल अकेले हो गए है… कभी भी आपका […]

Read more >
Guru bhakti kaise kare in hindi by jivandarshan

गुरू भक्ति कैसे करे पार्ट-3 (Guru bhakti kaise kare in hindi )

आध्यात्मिक विचार

Guru bhakti kaise kare in hindi – सदगुरू के चरणों में बैठो तो अपना ज्ञान,अपना अहंकार छोड़कर बैठना है आपको कोरा कागज बन जाना है। जब तक मन में एक भी प्रश्न है तो श्रद्धा तथा विश्वास पैदा होना असंभव है । गुरू के प्रति पूर्ण समर्पण करे।(Guru bhakti kaise kare in hindi ) आपके […]

Read more >
Guru jivandarshan

गुरू भक्ति कैसे करे पार्ट-2 (कुण्डलिनी योग)

आध्यात्मिक विचार

ऐसा गुरू जिसने परमात्मा का अनुभव कर लिया है अर्थात आत्म तत्व को समझ लिया है..सदगुरू कहलाता है क्योंकि परमात्मा तत्व से जुड़कर वह स्वयं परमात्मा ही हो जाता है। ऐसे गुरू के पास बैठते है तो चाहे सदगुरू बोले या न बोले उसकीं स्नेह भरी नज़र हम पर पड़ती है साथ ही उसकी ओरा […]

Read more >

गुरू भक्ति

आध्यात्मिक विचार

जब तक आत्मानुभव नहीं होता तब तक व्यक्ति की आध्यात्मिक यात्रा प्रारम्भ नहीं होती । आत्म-तत्व का ज्ञान होने पर परमात्मा तत्व की समझ विकसित होती है क्योंकि दोनों एक ही है। जैसे शक्कर के अणु का गुणधर्म समझ जाने पर पुरी शक्कर के बारे में जान सकते है। उसी प्रकार इस शरीर रूपी पिण्ड़ […]

Read more >
Goraji kumhar story in hindi by jivandarshan

गोराजी कुम्हार महान भक्त (Goraji kumhar story in hindi)

भक्तों की कहानियाँ

Goraji kumhar story in hindi – पंढ़रपुर में विट्ठलनाथजी के परम् भक्त गोराजी कुम्हार अपनी पत्नी तथा दो वर्ष के बच्चें के साथ रहते थे। गोराजी मन में प्रभु का सुमिरन करते तथा मिट्टी के बर्तन बनाते । गोराजी कुम्हार की कथा (Goraji kumhar story in hindi) एक दिन उनकी पत्नी पानी भरने गई तथा […]

Read more >