ज्योतिष ज्ञानवास्तुशास्त्र

रसोई घर से बदले अपना भाग्य (वास्तु दोष व उपाय भाग -2)

Change your destiny from the kitchen home Vastu tips jivandarshan

ग्रह स्वामिनी का अधिकतर समय रसोई घर में बीतता है। रसोईघर वास्तु के अनुसार उपयुक्त स्थान पर होने से ग्रह स्वामिनी स्वस्थ रहेगी तथा उसका मन प्रसन्न चित्त रहेगा।

  • गृह स्वामिनी के प्रसन्न रहने से पूरा परिवार सुख शांति का अनुभव करेगा ।
  • रसोई घर को आग्नेय कोण अर्थात पूर्व – दक्षिण दिशा में बनवाना चाहिए। यदि आग्नेय कोण में रसोई घर बनाना संभव नहीं हो तो उसे वायव्य कोण में अर्थात उत्तर – पश्चिम दिशा में बनवाना भी ठीक रहता है।
  • रसोई घर में पत्थर अर्थात स्लैब इस प्रकार लगाना चाहिए कि खाना बनाते समय गृह स्वामिनी का मुंह पूर्व दिशा में रहे या दक्षिण दिशा में रहे ।
  • रसोई घर की खिड़की पूर्व या दक्षिण दिशा में जैसा संभव हो बनवानी चाहिए। गैस का चूल्हा तथा गैस सिलेंडर को आग्नेय कोण में रखना चाहिए। ओवन, मिक्सी आदि को भी रसोईघर के आग्नेय कोण में रखना चाहिए।
  • किचन में पानी का सिंक ईशान कोण में बनवाना चाहिए। यदि आग्नेय कोण में गैस का चूल्हा रहने से घर में पैसे की आमदनी अच्छी रहेगी तथा परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।
  • यदि गैस चूल्हा नैऋत्य कोण अर्थात दक्षिण पश्चिम में हो तो परिवार में गृहिणी की सोच नकारात्मक होने से लड़ाई झगड़े होते हैं व परिवार में रिश्ते खराब होते हैं। इससे बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता तथा आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है।
  • वायव्य कोण अर्थात उत्तर पश्चिम दिशा में गैस चूल्हा रखने से गृह स्वामिनी हमेशा पुरानी बातों को याद करके निराशा में डूबी हुई रहती है तथा घर में मेहमानों का आना जाना ज्यादा होता है जिससे गृह स्वामिनी को किचन में ज्यादा रहना पड़ता है तथा गृह स्वामिनी का तनाव बढ़ जाता है।
  • ईशान कोण अर्थात उत्तर पूर्व दिशा में गैस का चुला रखने से सेहत संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है क्योंकि रोग प्रतिरोधक शक्ति घट जाती है। साथ ही समाज में व्यक्ति की छवि खराब हो जाती है। तथा पैसों की हानी होती है और वंश वृद्धि रुक जाती है।
  • जिसका रसोईघर पहले से बना हुआ हो तथा उसमें सुधार संभव नहीं हो तो चूल्हे की स्लैब के नीचे तांबे का पानी से भरा हुआ पार्सल जब तक चूल्हा जलता हो रहना चाहिए तथा फिर इस पानी को खाना बनाने के बाद फेंक देना चाहिए। तथा रसोई घर का आग्नेय कोण हो वहाँ एकएक लाल रंग का बल्ब हमेशा जलते रहने देना चाहिए.इससे अच्छा रहता है यदि गैस चूल्हा फर्श पर रखकर खाना बनाते हो तो पानी के पात्र को चूल्हे के निकट रखना चाहिये ।
  • किचन मेंमें आजकल रेफ्रिजरेटर रखा जाता है जो सही नहीं है परन्तु यदि रखना ही हो तो उसे उत्तर,दक्षिण या पश्चिम दिशा में रखना चाहिए यदि नैऋत्य कोण में रखेंगे तो रेफ्रिजरेटर जल्द खराब हो जायेगा।
  • रसोईघर में पानी को ईशान कोण में रखना चाहिए । आटे का डिब्बा वायव्य दिशा अर्थात उत्तर-पश्चिम दिशा में रखना चाहिए।
  • रसोई घर में एक प्लेट में थोड़ा नमक खुला हुआ रखना चाहिए । नमक रसोईघर की नकारात्मकता को खींच लेता है नमक को 7 दिन में फेककर दुसरा नमक रखना चाहिए.
  • रात को सींक में झुठे बर्तन नहीं रखने चाहिये । उन्हें धोकर ही सोना चाहिए।
  • रसोईघर में दर्पण नहीं लगाना चाहिए।आग्नेय कोण में पानी नहीं रखना चाहिए रसोईघर में भारी सामान,बर्तन आदि को दक्षिण दीवार की ओर रखना चाहिए।
  • आजकल रसोईघर का निर्माण इस प्रकार किया जाता है कि खाना बनाते समय कौन आ रहा है इसकी जानकारी गृहिणी को हो जाय। परन्तु आने वाले को गैस का चुल्हा बाहर से दिखाई नहीं देना चाहिए। यदि आने वाले को गैस का चुल्हा बाहर से दिखाई देनेदेने से परिवार के संकटग्रस्त होने की संभावना रहतरहती है य़।
  • रसोई घर में सामान की रेक दक्षिण एवं पपश्चिमी दीवार पर बनानी चाहिए यदि आवश्यक हो तो चारो दीवार पर भी बनाई जा सकती है परन्तु गैस चुल्हे के ऊपर रेक नहीं बनानी चाहिए अन्यथा सामान लेते वक्त जल जाने का खतरा रहता है तथा चूल्हे के ऊपर रेदीवारेक होने सेसेसे धुआ निकलने में परेशानी होती है।
  • यदि बड़ा किचन होता हो तो 24 घंटे में एक बार रसोई में बैठकर भोजन करना चाहिए इससे किचन का वास्तुदोष दुर होताहोता है। रसोईघरतकरभोजन में पश्चिम की ओर बैठकर भोजन करना ठीक होता है।

वास्तु दोष से जुड़ी ओर जानकारी अगलेअगले भाग में आएगी तक तक पढ़ते रहिए जीवन दर्शनजीवन दर्शन की सफलता के बाद आप सभी के आग्रह पर हमने इसकी एप्लीकेशन भी बना दी है जिसे आप Google play Store से Download कर सकते है…अब ऐप के माध्यम से आप जब इच्छा हो तब जीवन दर्शन की पोस्ट पढ़ सकते है……नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे और App Download करे और आपको ये App कैसा लगा वो कमेंट करे और उसका Review दे.

इस लिंक पर क्लिक करे एप डाउनलोड करने के लिए छ- https://play.google.com/store/apps/details?id=com.jivandarshan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.