मेरी सोचसच का सामनासमाज

बुरे वक्त में क्या आपके साथ भी होता है ऐसा..तो जरूर पढ़े..(Bura vaqt in hindi)

Bura vaqt in hindi by jivandarshan

Bura vaqt in hindi- हर किसी की ज़िन्दगी में एक बुरा वक्त आता है…तब हम कैसे अपने आप को संभाल कर रखे वो बहुत आवश्यक होता है…

आपने वो तो सुना ही होगी कि जब समय बुरा होता है तो “ऊंट पर बैठे आदमी को भी कुत्ता काट लेता है”..

वैसे पुरानी कहावतों के मतलब बहुत गहरे होते है…इसको समझना थोड़ा मुश्किल है पर हमारे जीवन में कुछ वक्त ऐसा रहता है जहां कोई भी हमें किसी भी प्रकार की तकलीफ पहुंचाता है तब हम चाहकर भी कुछ नहीं कर पाते है..

ना ही उन्हें कुछ कह पाते है और अंदर ही अंदर उस बात का दुख हमें सताता है…Bura vaqt in hindi

साथ ही बुरे वक्त में जो लोग आपके साथ कितने भी अच्छे क्यों ना हो आप किसी के लिए कितना भी करते हो पर आपके बुरे वक्त में उनका व्यवहार भी आपके साथ बदल जाएगा…

मैं आपको ये भी बताना चाहता हूं कि कोई भी बिलकुल गलत नहीं होता वो हमारी और आगे वाले कि परिस्थिति पर भी निर्भर करता है साथ ही हमारे बुरे वक्त का भी प्रभाव पड़ता है जो हमें सहन करना पड़ता है….

दोस्तों इस पुरी दुनिया में कोई ऐसा नहीं है जो खुद को गलत समझता हो हर किसी को ऐसा ही लगता है कि वो सही है…उसमें हम सब आ गए….

कभी-कभी लोग आपको उन चीज़ो के लिए भी सुना सकते है जो आपके पास ना हो…पर आप तब भी कुछ नहीं कह पाते…

साथ ही उन चीज़ो के लिए भी सुना सकते है जो आपके पास उनसे बेहतर हो पर आप तब भी कुछ नहीं कह पाते ये वक्त की प्रोब्लम है …

मेरी बाते आप खुद से रिलेट करेंगे तभी आप मेरी बातों को सही से समझ पाएंगे…

जब आपके साथ कभी कोई बुरी बात होगी तब हो सकता है कि आपके अपने भी कुछ ना कर पाए…

ये सभी बाते हुई बुरे वक्त की अब हम बात करेंगे की ऐसे बुरे वक्त को पार कैसे करना है..

तो दोस्तों इसी बात पर एक कहावत याद आ गई वो कहते है ना “मरा हुआ हाथी भी लाखों का होता है”…

उसी प्रकार व्यक्ति की काबिलीयत कहीं नहीं जाती वो उसके साथ ही रहती है बस हमारे बुरे दौर के कारण लोग हमें अन्यथा लेने लग जाते है…

वक्त का इंतजा़र करें-Bura vaqt in hindi

पर चिन्ता ना करें हमारा वक्त भी आएगा तब आपके सामने होने वाली परिस्थितियां अपने आप बदलेंगी..

बस आपसे यहीं कहना चाहता हूं कि बुरे वक्त में छोटी-मोटी बातों को सहन कर लो पर जहां आपके आत्मसम्मान, स्वाभिमान को कोई ठेस पहुंच रही हो तो वो मत सहन करों …

या फिर वक्त का इंतजार करो जब वक्त आपका हो तो उस व्यक्ति को एहसास जरूर दिलाओ की उसने आपके साथ क्या किया था और क्या गलत कहां था…

इन सभी बातों के साथ एक बात ध्यान में रखना कुछ भी चाहे आपका वक्त अच्छा हो या बुरा किसी के साथ बुरा व्यवहार मत करना जो भी होता है वो परम पिता परमेश्वर की कृपा से ही होता है।

धन्यवाद    

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.